Followers

Wednesday, July 10, 2013

हमरा ज्ञात भेल जे हमर कथा कविता पर शोध भ' रहल छैक , ख़ास कय हमर जीवन पर , एहि फेस बुक से सेहो उधृत क' रहल छैथ. हमर वादा अछि जे हम रही नय रही हमर इ फेसबुक, हमर पेजwww.facebook.com/DrShefalikaVerma?ref=tn_tnmn आ ब्लॉग http://shefalikavarma.blogspot.in/ सभ एहिना रहत ..कहियो ने ख़त्म होयत .कोना ?? ई भविष्यक गर्भ में अछि--एखन ते हम छी अहां क सोझा .. कोनो शक नै जे एहि में बहुत सामग्री छैक ...फेस बुक पर जे हम हिंदी में लिखने छी उहो प्रायः मैथिली क अनुवाद थीक ...हम जे लिखलों ओकरा कविता नहि बुझब वरन हम स्वयम छी /
हँ , हमरा दीर्घायु हेवाक शुभकामना जे दैत छैथ ओ सब टा आयु हुनके सब के लागि जाय --भगवती स हमर प्रार्थना ......

VERY GUD MORNING MY LOVING FRNDS !

मुझे ज्ञात हुआ मेरी रचनाओं पर शोध हो रहे हैं , मेरे जीवन पर भी =====और लोग फेसबुक का भी सहारा ले रहे हैं . मेरा वादा है मै न भी रहूँ तो भी मेरा ये फेसबुक यूँही चलता रहेगा , मेरा पेज ,/www.facebook.com/DrShefalikaVerma?ref=tn_tnmn, ब्लौग http://shefalikavarma.blogspot.in/ , सभी यथावत रहेंगे ..कैसे क्यों ---ये भविष्य के गर्भ में है. , अभी तो मै हूँ ना ...कोई शक नही जो इसमें बहुत सामग्री क्रिया प्रतिक्रिया आपको मिल जाएगी ,मैंने जो लिखा इस पर वो मेरी कविता नही स्वयम मै हूँ .....
मेरी लम्बी उम्र की प्रार्थना करनेवाले ---वो सारी उम्र आप सब को ही लग जाये…….

No comments:

Post a Comment