Followers

Saturday, January 12, 2013

अशेष शुभकामनायें.....

जिस तरह ईमारत की नीव में एक भी ईंट गलत पड जाने से सारी ईमारत कमजोर हो जाती है , उसी तरह संबंधों की नीव में अहंम का एक टुकड़ा भी पड जाने से सारे सम्बन्ध टूटे हुए प्रतीत होते हैं। अस्तु, नव निर्माण देश का नूतन भविष्य है। नव पल्लव नव आशा का शुभ सन्देश है। तिल तिल बहते रहें अपने संबंधों की भावधारा में .........

लोहिरी एवं तिला संक्रांति की अशेष शुभकामनायें।।

Jis tarah imarat ki niw me ek bhi intt galt parh jane se sari imarat kamjor ho jati hai ,usi tarah sambandhon ki niw me ek bhi soch galt ho jane se sare sambandh tute hue pratit hote hain . astu nav nirman desh ka nutan bhawishy hai. nav pallav nav asha ka shubh sandesh hai..TIL TIL BAHTE RAHEN APNE SAMBANDHON KI BHAWDHARA ME

HAPPY Lohiri . Makar sankranti, Uttarayan-,Maghi ,Pongal ,Bihu ,Makara Vilakku ,Khichdi , Maghe Sankranti, Songkran, Thingyan, Moha Sangkran, Shishur Saenkraat .. n to all my frnds of this world...

No comments:

Post a Comment